पंजाब सरकार द्वारा नेत्रहीन श्रेणियों के लिए आरक्षित मास्टर काडर के खाली पदों को आर्टस स्ट्रीम के विषय में बदलने का फ़ैसला – विजय इंदर सिंगला

Advertisement
Vijay Inder Singla
नेत्रहीन उम्मीदवारों को उनकी सुविधा के लिए साईंस और कॉमर्स स्ट्रीम विषय में खाली रहे पदों के बदले आर्टस स्ट्रीम विषय में वही कोटा मिलेगा – स्कूल शिक्षा मंत्री
चंडीगढ़, 17 सितम्बरःस्कूल शिक्षा मंत्री, पंजाब श्री विजय इंदर सिंगला ने आज कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने नेत्रहीन श्रेणी के उम्मीदवारों की सुविधा के लिए मास्टर कैडर के खाली रहे पदों के विषय को बदलने का फ़ैसला किया है। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नेत्रहीन उम्मीदवारों की सुविधा के लिए शिक्षा विभाग ने साईंस और कॉमर्स स्ट्रीम विषय और शारीरिक शिक्षा विषय के लिए योग्य उम्मीदवार न मिलने के कारण खाली पड़े पदों के बदले आर्टस स्ट्रीम के विषय के पदों में वही कोटा देने का फ़ैसला किया है।
अधिक जानकारी देते हुये श्री विजय इंदर सिंगला ने कहा कि कुछ विषय ऐसे थे जिनमें मास्टर काडर के पद ज़्यादातर मौके पर खाली रहते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे विषयों में विज्ञान, गणित, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, कामर्स, शारीरिक शिक्षा आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इन समस्याओं के मद्देनज़र उनकी सरकार द्वारा इन विषयों की नेत्रहीन श्रेणियों के खाली पदों को पंजाबी, हिंदी, संगीत, इतिहास, राजनीति शास्त्र और समाज शास्त्र के विषयों में तबदील करने का फ़ैसला किया गया है।
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि उनकी सरकार समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए वचनबद्ध है और इस सम्बन्ध में लगातार ठोस यत्न किये जा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि नेत्रहीन कोटे के पदों को आर्टस स्ट्रीम विषय में बदलने के फ़ैसले से इन श्रेणियों के उम्मीदवारों को मास्टर काडर के पदों की भरती में और अधिक नौकरियों के मौका मिलेंग जो पहला योग्य उम्मीदवार न होने के कारण बेकार निकल जाते थे। उन्होंने आगे कहा कि इसके साथ शिक्षा विभाग भी बिना किसी रुकावट से इन श्रेणियों के लिए आरक्षित पद भर सकेगा।